MP Board Class 8th Social Science Solutions विविध प्रश्नावली 1

MP Board Class 8th Social Science Solutions विविध प्रश्नावली 1

MP Board Class 8th Social Science विविध प्रश्नावली 1 अभ्यास प्रश्न

प्रश्न 1.
निम्नलिखित प्रश्नों के सही विकल्प चुनकर लिखिए –
(1) 1608 ई. में प्रथम अंग्रेजी जहाजी बेड़ा किसके नेतृत्व में भारत पहुँचा था ?
(क) डूप्ले
(ख) रॉबर्ट क्लाइव
(ग) कैप्टन हॉकिन्स
(घ) चार्ल्स द्वितीय।
उत्तर:
(ग) कैप्टन हॉकिन्स

(2) इंग्लैण्ड में कानून बनाकर भारतीय कपड़े के आयात पर कब रोक लगाई गई ?
(क) 1700 ई. में
(ख) 1813 ई. में
(ग) 1793 ई. में
(घ) 1716 ई. में।
उत्तर:
(क) 1700 ई. में

(3) अंग्रेजों के विरुद्ध ‘संन्यासी विद्रोह’ का उल्लेख किस पुस्तक में मिलता है ?
(क) गीत गोविन्द
(ख) आनन्द मठ
(ग) कामायनी
(घ) आइने अकबरी।
उत्तर:
(ख) आनन्द मठ

(4) प्राचीन काल में वर्ण व्यवस्था किस पर आधारित थी?
(क) धर्म
(ख) कर्म
(ग) यज्ञ
(घ) जाति।
उत्तर:
(ख) कर्म

(5) लोकतन्त्र जनता का, जनता के लिए और जनता द्वारा शासन है” यह कथन है –
(क) अब्राहम लिंकन
(ख) महात्मा गांधी
(ग) पं. जवाहरलाल नेहरू
(घ) कार्ल मार्क्स।
उत्तर:
(क) अब्राहम लिंकन

(6) पृथ्वी की सबसे बाहरी व ऊपरी पर्त को क्या कहते –
(क) भूपर्पटी
(ख) शैल
(ग) जलमण्डल
(घ) वायुमण्डल
उत्तर:
(क) भूपर्पटी

(7) नर्मदा नदी अपने मुहाने पर बनाती है –
(क) ज्वारनदमुख
(ख) वी-आकार की घाटी
(ग) जलप्रपात
(घ) गोखुर झील
उत्तर:
(क) ज्वारनदमुख

प्रश्न 2.
रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए –
(1) अलीवर्दी ………….. खाँ ई. में बंगाल का नवाब बना।
(2) 1843 ई. में कानून बनाकर ………… प्रथा पर रोक लगाई गई।
(3) ………….. के नेतृत्व में खासी विद्रोह हुआ था।
(4) …………. के माध्यम से शिक्षा देना अधिक सरल एवं उपयोगी होता है।
(5) हमारे देश में संविधान के अनुसार ………… शासन पद्धति की स्थापना की गई है।
(6) पृथ्वी के ऊपरी धरातल का लगभग 80 प्रतिशत भाग …………. चट्टानों से ढका है।
(7) जबलपुर के पास भेड़ाघाट ………….. दर्शनीय है।
उत्तर:

  1. 1740
  2. दास
  3. राजा तीरह सिंह
  4. मातृभाषा
  5. लोकतन्त्र
  6. अवसादी
  7. का महाखड्ड

MP Board Class 8th Social Science विविध प्रश्नावली 1 अति लघु उत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 3.
(1) डलहौजी द्वारा अवध को किस आधार पर ब्रिटिश शासन का अंग बनाया गया ?
उत्तर:
1856 ई. में अवध के नवाब पर कुशासन का आरोप लगाकर डलहौजी द्वारा अवध को ब्रिटिश शासन का अंग बनाया गया।

(2) एशियाटिक सोसाइटी की स्थापना कब व किसके द्वारा की गई ?
उत्तर:
सन् 1784 ई. में सर विलियम जोंस द्वारा एशियाटिक सोसाइटी की स्थापना की गई।

(3) बैरकपुर में नये कारतूसों का इस्तेमाल करने से किसने मना किया था ?
उत्तर:
मंगल पांडे ने बैरकपुर में नये कारतूसों का इस्तेमाल करने से मना किया था। .

(4) हमारे राष्ट्रीय पर्व कौन-कौन से हैं ?
उत्तर:
स्वतन्त्रता दिवस, गणतन्त्र दिवस व गाँधी जयन्ती हमारे राष्ट्रीय पर्व हैं।

(5) लोकतन्त्र का चौथा स्तम्भ किसे कहा गया है ?
उत्तर:
स्वतन्त्र प्रेस को लोकतन्त्र का चौथा स्तम्भ कहा गया है।

(6) भूकम्प की उत्पत्ति जिस स्थान पर होती है, उसे क्या कहते हैं। भूकम्प की उत्पत्ति
उत्तर:
भूकम्प की उत्पत्ति जिस स्थान पर होती है उसे ‘भूकम्प केन्द्र (फोकस)’ कहते हैं। .

(7) लोएस किसे कहते हैं ?
उत्तर:
अत्यन्त महीन बालू मृदा के साथ बहुत दूर जाकर जमा होती है और इस तरह जिस मैदान की रचना होती है उसे लोएस कहते हैं।

MP Board Class 8th Social Science विविध प्रश्नावली 1 लघु उत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 4
(1) भारत में अंग्रेजों की सफलता का कोई एक कारण बताइए।
उत्तर:
अंग्रेजों की सफलता का कारण उनके हल्के और छोटे हथियार तथा प्रशिक्षित सेनाएँ थीं। अंग्रेजों के पास एक अच्छा तोपखाना भी था जो उनकी विजय का कारण बना।

(2) रैय्यतवाड़ी व्यवस्था क्या थी ?
उत्तर:
रैय्यतवाड़ी व्यवस्था में भूमि जोतने वाले को भू-स्वामी माना गया। इनसे कम्पनी सीधे कर लेती थी। लगान न देने पर किसानों का भूमि पर से अधिकार समाप्त कर दिया जाता था।

(3) रामोसी विद्रोह का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
पश्चिम घाट में बसने वाली एक आदिम जाति रामोसी ने अंग्रेजी प्रशासन के विरुद्ध 1822 ई. में अपने सरदार चित्तर सिंह के नेतृत्व में विद्रोह कर दिया और उन्होंने सतारा के आस-पास का क्षेत्र लूट लिया था।

(4) राष्ट्रीय एकीकरण में पर्यटन के महत्त्व को समझाइए।
उत्तर:
प्रारम्भ से ही पर्यटन राष्ट्रीय एकीकरण का महत्त्वपूर्ण तत्व रहा है। इतने विशाल देश को समझने में और सभी में एकता का भाव जगाने में पर्यटन सहयोगी होता है। पर्यटन से एक-दूसरे की विशेषताओं और समस्याओं को समझते हैं, जिसके कारण समान भाव, विचार और दृष्टिकोण विकसित होता है।

(5) निःशस्त्रीकरण से क्या आशय है ?
उत्तर:
निःशस्त्रीकरण का अर्थ शस्त्रों की दौड़ समाप्त करने अथवा शस्त्रों को कम या समाप्त करने से है। निःशस्त्रीकरण विश्व शान्ति की स्थापना के लिए आवश्यक है।

(6) मैदानों को ‘सभ्यता का पालना’ क्यों कहा जाता है?
उत्तर:
मैदान मानव निवास के लिए सबसे उपयुक्त स्थल है। क्योंकि मैदान ही उसकी भोजन, वस्त्र, मकान और अन्य आवश्यकताओं की पूर्ति करते हैं, इसलिए विश्व की लगभग सभी सभ्यताओं का जन्म मैदानी भू-भाग में हुआ है। इसीलिए मैदानों को ‘सभ्यता का पालना’ कहा जाता है।

(7) जैविक अपक्षय किसे कहते हैं ?
उत्तर:
जैविक अपक्षय वनस्पतियों, जीव-जन्तुओं और मनुष्यों द्वारा होता है। वृक्षों की जड़ें चट्टानों की संधियों में पहुँचकर और अधिक चौड़ा कर उन्हें तोड़ देती हैं। चूहे, दीमक, चीटियाँ, केंचुए और जीव नरम चट्टानों को तोड़ते-फोड़ते और खुरचते हैं। मनुष्य भी कृषि उपयोग के लिए, भवन निर्माण के लिए, सड़क निर्माण के लिए चट्टानों की तोड़-फोड़ करता है। इस प्रकार के अपक्षय को ‘जैविक अपक्षय’ कहते हैं।

MP Board Class 8th Social Science विविध प्रश्नावली 1 दीर्घ उत्तरीय प्रश्न

प्रश्न 5.
(1) बक्सर के युद्ध का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
प्लासी के युद्ध के बाद नवाब मीर जाफर कम्पनी के लिए एक कठपुतली शासक के समान था। नवाब का खजाना कम्पनी और उसके कर्मचारियों को भेंट और रिश्वत देने में खाली हो गया। कम्पनी की माँग में निरन्तर वृद्धि होती जा रही थी। इससे पहले कि नवाब मीर जाफर कोई कठोर निर्णय लेता, कम्पनी ने उसे गद्दी से हटाकर उसके दामाद मीर कासिम को बंगाल का नया नवाब बना दिया। मीर कासिम कम्पनी पर अपनी निर्भरता को कम करना चाहता था।

उसने शक्ति संचय करना शुरू कर दिया। नया सैनिक संगठन खड़ा किया। व्यापारिक चुंगी समाप्त कर दी। जिससे कम्पनी को नुकसान हुआ। परिणामस्वरूप 1736 ई. में नवाब मीर कासिम और कम्पनी के मध्य हुए युद्ध में मीर कासिम पराजित हुआ। मीर कासिम भागकर अवध चला गया। अवध का नवाब शुजाउद्दौला भी अंग्रेजों से नाराज था। मुगल सम्राट शाह आलम भी दिल्ली से भागकर अवध में ही निवास कर रहा था। तीनों ने मिलकर बक्सर नामक स्थान पर 23 अक्टूबर, 1764 ई. को कम्पनी की सेनाओं के साथ युद्ध किया। मुगल सम्राट और दोनों नवाब युद्ध में पराजित हुए।

(2) ब्रिटिश शासन की न्याय एवं कानून व्यवस्था का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
किसी भी देश के शासन संचालन के लिए कानून का होना आवश्यक है। जिसका अनुपालन सरकार एवं जनता द्वारा किया जाना जरूरी है। ब्रिटिश शासनकाल में सरकार द्वारा न्यायालयों की स्थापना गई। न्यायालयों द्वारा कानूनों का उल्लंघन करने वाले लोगों पर कठोर दण्डात्मक कार्यवाही की जाती थी।

प्रारम्भ में अंग्रेजों ने भारत में प्रचलित कानूनों के साथ छेड़छाड़ नहीं की और विवाह, उत्तराधिकार सम्बन्धी कानून, रीति – रिवाज और धर्म ग्रन्थों पर आधारित पुरातन कानूनों को चलने दिया, किन्तु अंग्रेजों और भारतीयों में विवाद होने पर उसका निराकरण अंग्रेजी कानून से होता था। सन् 1793 ई. में बनाये गये बंगाल रेग्यूलेशन एक्ट के तहत न्यायालयों में भारतीयों के निजी एवं मालिकाना अधिकारों के लिए फैसले होने लगे थे। इस एक्ट में हिन्दुओं और मुसलमानों के निजी,कानूनों को शामिल किया गया। इससे भारत में लिखित कानूनों का चलन आरम्भ हुआ था।

(3) 1857 से पूर्व किसानों और दस्तकारों की स्थिति का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
अंग्रेजों द्वारा लागू की गई भूमि व्यवस्थाओं से किसानों की हालत बदतर हो गई थी। पुराने जमींदारों को हटा देने पर किसानों की स्थिति में कोई सुधार नहीं हुआ। बल्कि कम्पनी और उसके कर्मचारियों का किसानों पर अत्याचार बढ़ गया। कई मामलों में राजस्व की माँग में वृद्धि हुई तो किसानों के कष्ट और बढ़ गए। जब इंग्लैण्ड में तैयार हुआ माल भारत में पहुँचने लगा तो यहाँ के पुराने हस्तशिल्प बरबाद हो गये। पीड़ित किसान और कारीगर ब्रिटिश शासन को उखाड़ फेंकने की लड़ाई के लिए मजबूर हो गये।

(4) साम्प्रदायिकता देश की एकता के लिए खतरा है। समझाइए।
उत्तर:
साम्प्रदायिकता’ शब्द सम्प्रदाय से बना है। साम्प्रदायिकता का अर्थ है, ऐसी भावनाएँ व क्रियाकलाप जो अपने सम्प्रदाय और उसकी विशेषताओं को तो श्रेष्ठ समझें तथा दूसरे के सम्प्रदाय और विश्वासों को हीन समझें। ऐसा दृष्टिकोण अपने धर्म अथवा सम्प्रदाय के आधार पर किसी समूह विशेष के हितों पर बल देता है और उन हितों को राष्ट्रहितों के ऊपर समझता है – हम जानते हैं कि संकीर्ण साम्प्रदायिक विचारों के कारण 1947 में साम्प्रदायिक दंगे हुए तथा भारत दो भाग, भारत और पाकिस्तान में विभाजित हो गया।

लाखों लोग इन दंगों में मारे गए और बेघर हुए। स्वतन्त्रता के इतने वर्षों के बाद आज भी भारत में भिन्न-भिन्न स्थानों पर सामाजिक तनाव, साम्प्रदायिक दंगों में परिवर्तित हो जाते हैं। यह सब स्वार्थ, अज्ञानता और धार्मिक कट्टरता के कारण होता है। अनेक पंथ होने से कोई हानि नहीं है, लेकिन जब इन पंथों को मानने वाले अपने हितों को राष्ट्रहितों से ऊपर रखते हैं तो इससे देश की एकता और अखण्डता को खतरा पैदा हो जाता है और यह इस देश का दुर्भाग्य है।

(5) लोकतन्त्र में मतदान के महत्व को समझाइए।
उत्तर:
प्रजातान्त्रिक व्यवस्था में मतदान का बहुत अधिक महत्व है। मतदान द्वारा मतदाता यह तय करता है कि वह किस प्रकार के प्रतिनिधियों को अपने शासक के रूप में देखना चाहता है। परन्तु हमारे देश में कुछ नागरिक अपने मताधिकार का प्रयोग नहीं करते। जिसका मुख्य कारण है जागरूकता की कमी और शिक्षा का अभाव।

कुछ नागरिक उदासीनता के कारण मतदान नहीं करते। नागरिकों को समझदारी का परिचय देते हुए ऐसे राजनीतिक दलों के प्रत्याशी को अपना मत देना चाहिए, जो देश की एकता और अखण्डता बनाये रखने और सभी नागरिकों के हितों की रक्षा करने के लिए तत्पर हो। जाति, धर्म या क्षेत्र विशेष की भावनाओं में प्रेरित मतदान लोकतन्त्र को कमजोर बनाता है। अतः इससे बचना चाहिए।

(6) ज्वालामुखी के प्रकारों का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
ज्वालामुखी मुख्यतः तीन प्रकार के होते हैं –

  • सक्रिय ज्वालामुखी – जिन ज्वालामुखियों से एक बार उद्भेदन होने के बाद निरन्तर समय-समय पर उद्भेदन होते रहते हैं, उन्हें सक्रिय ज्वालामुखी कहते हैं। इटली के एटना तथा स्ट्राम्बोली ज्वालामुखी इसके उदाहरण हैं।
  • अर्द्धसक्रिय या प्रसुप्त ज्वालामुखी – ये वे ज्वालामुखी हैं जिनसे कई बार. उद्भेदन के बाद उद्भेदन की समस्त क्रियाएँ कुछ समय के लिए बन्द हो जाती हैं। किन्तु अकस्मात् पुनः उद्भेदन हो जाता है। इन्हें अर्द्धसक्रिय या प्रसुप्त ज्वालामुखी कहते हैं। इटली का विसूवियस ज्वालामुखी इसका उदाहरण है।
  • विसुप्त या शान्त ज्वालामुखी – जिन ज्वालामुखियों में एक बार उद्भेदन होने के बाद लम्बे समय तक उद्भेदन नहीं होता तथा पुनः उद्भेदन की सम्भावना भी नहीं होती, ऐसे ज्वालामुखी विसुप्त या शान्त ज्वालामुखी कहलाते हैं। अफ्रीका का किलिमंजारो पर्वत इसका उदाहरण है।

(7) नदी अपरदन से निर्मित स्थलाकृतियों का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
नदी अपरदन से अग्रलिखित स्थलाकृतियों का निर्माण होता है –
1. महाखड्ड-अपने ऊपरी भाग में, उद्गम के पास और अपनी युवावस्था में नदी का प्रमुख कार्य अपनी घाटी को गहरा करना होता है। इस भाग में जल वेग अधिक होने से चट्टानों के टुकड़े अपनी तली को खुरच-खुरच कर गहरा करते रहते हैं। इसके कारण गहरी कन्दराएँ, महाखड्ड और केनियन का निर्माण होता है।

2.  वी (V) आकार की घाटी-नदी के अपरदन कार्य का लक्ष्य अपने आधार तल तक पहुँचना होता है। उस झील या समुद्र के तल को जिसमें वह गिरती है नदी अपरदन का ‘आधार तल’ कहते हैं। नदी अपनी घाटी को गहरा और किनारों को चौड़ा करती है, जिससे वी (V) आकार की घाटी का विकास होता है।

3. जल प्रपात-जब नदी का जल किसी चट्टानी कगार पर ऊपर से सीधा नीचे गिरता है तो उसे जल प्रपात कहते हैं। यदि नदी के मार्ग में कोई कठोर चट्टान लम्बवत् खड़ी पाई जाती है तो गिरने वाला जल अपनी अपरदन शक्ति से नीचे की कोमल चट्टानों को तेजी से काटता है। जलधारा के नीचे गहरा गड्ढा बन जाता है।

2 thoughts on “MP Board Class 8th Social Science Solutions विविध प्रश्नावली 1”

  1. Pingback: MP Board Class 8th Social Science Solutions Chapter 17 National Movement 1885-1918 » Education Learn Academy

  2. Pingback: [PDF] MP Board Class 8th Social Science Solutions सामाजिक विज्ञान 2021 » Education Learn Academy

Comments are closed.