MP Board Class 8th Social Science Solutions विविध प्रश्नावली 3

MP Board Class 8th Social Science Solutions विविध प्रश्नावली 3

MP Board Class 8th Social Science विविध प्रश्नावली 3 अभ्यास प्रश्न

प्रश्न 1.
निम्नलिखित प्रश्नों के सही विकल्प चुनकर लिखिए –
(1) कांग्रेस के प्रथम अध्यक्ष कौन थे ?
(क) डब्ल्यू. सी. बनर्जी
(ख) मोती लाल नेहरू
(ग) सुरेन्द्र नाथ बनर्जी
(घ) गोपाल कृष्ण गोखले।
उत्तर:
(क) डब्ल्यू. सी. बनर्जी   (2) किस महिला क्रान्तिकारी द्वारा अंग्रेजों के क्लब पर गोलियां चलाई गईं ?
(क) क्रोमिल्ला
(ख) प्रीतिलता
(ग) शान्ति घोष
(घ) सुनीता चौधरी।
उत्तर:
(ख) प्रीतिलता (3) ‘करो या मरो’ का नारा किसने दिया ?
(क) महात्मा गाँधी
(ख) सुभाषचन्द्र बोस
(ग) पं. जवाहरलाल नेहरू
(घ) भीमराव आम्बेडकर।
उत्तर:
(क) महात्मा गाँधी (4) नाथुला दर्रा वर्तमान में किस राज्य में है ?
(क) जम्मू और कश्मीर
(ख) सिक्किम
(ग) महाराष्ट्र
(घ) हिमाचल प्रदेश।
उत्तर:
(ख) सिक्किम (5) प्रथम विश्व युद्ध के बाद किस अन्तर्राष्ट्रीय संगठन का निर्माण किया गया था ?
(क) संयुक्त राष्ट्र संघ
(ख) लीग ऑफ नेशन्स
(ग) दक्षेस
(घ) इनमें से कोई नहीं।
उत्तर:
(ख) लीग ऑफ नेशन्स (6) ऑस्ट्रेलिया के उत्तर-पूर्वी तट के साथ-साथ मूंगे की चट्टान कितने किलोमीटर लम्बाई तक फैली
(क) 920 किलोमीटर
(ख) 209 किलोमीटर
(ग) 1920 किलोमीटर
(घ) 9120 किलोमीटर।
उत्तर:
(ग) 1920 किलोमीटर   (7) ऑस्ट्रेलिया के मूल निवासी शिकार करने हेतु किस औजार का प्रयोग करते हैं ?
(क) धनुष-बाण
(ख) बूमरँग
(ग) भाला
(घ) पिंजरा।
उत्तर:
(ख) बूमरैंग प्रश्न 2.
रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए –
(1) मौलाना अबुल कलाम आजाद ने …………. नामक अखबार प्रारम्भ किया था।
(2) फॉरवर्ड ब्लॉक के संस्थापक ……….. थे।
(3) यूनेस्को का मुख्यालय ………….. में है।
(4) तीन ओर से भू-भाग. द्वारा घिरा समुद्री भाग …………. कहलाता है।
(5) भेड़पालन केन्द्र पर काम करने वाले मजदूरों को ………….. कहते हैं।
उत्तर:

  1. अल हिलाल
  2. सुभाषचन्द्र बोस
  3. पेरिस
  4. खाड़ी
  5. जेकारू

MP Board Class 8th Social Science विविध प्रश्नावली 3 अति लघु उत्तरीय प्रश्न प्रश्न 3.
(1) विभाजन के समय बंगाल में कौन-कौनसे प्रान्त सम्मिलित थे ?
उत्तर:
विभाजन के समय बंगाल में बंगाल, बिहार, असम, उड़ीसा (ओडिशा) प्रान्त सम्मिलित थे। (2) द्वितीय चरण के क्रान्तिकारियों का प्रमुख नारा क्या था ?
उत्तर:
हम दया की भीख नहीं माँगते। हमारी लड़ाई आखिरी फैसला होने तक ही है। यह फैसला है जीत या मौत।” (3) अन्तर्राष्ट्रीय श्रम संगठन का मुख्य उद्देश्य बताइए।
उत्तर:
अन्तर्राष्ट्रीय श्रम संगठन का मुख्य उद्देश्य सामाजिक न्याय के लिए प्रयास करना और श्रमिकों की दशा में सुधार लाना है। (4) जल प्रदूषण के प्रमुख स्रोत क्या-क्या हैं ?
उत्तर:
वर्तमान समय में नगरीकरण, कृषि, औद्योगिक, सामाजिक एवं धार्मिक गतिविधियाँ जल प्रदूषण के प्रमुख स्रोत हैं। (5) द्वीप किसे कहते हैं ?
उत्तर:
चारों ओर से जल से घिरे भू-भाग को द्वीप कहते हैं। (6) ओपल धातु का उपयोग किस कार्य में किया जाता
उत्तर:
ओपल धातु का उपयोग चूड़ियाँ तथा अंगूठियाँ बनाने में होता है।   MP Board Class 8th Social Science विविध प्रश्नावली 3 लघु उत्तरीय प्रश्न प्रश्न 4.
(1) कांग्रेस के सूरत अधिवेशन का महत्व बताइए।
उत्तर:
नरम दल और गरम दल के नेताओं के मतभेद बढ़ते जा रहे थे। 1906 ई. में दादाभाई नौरोजी की कुशलता के कारण दोनों दलों में संघर्ष होने से रुक गया था, लेकिन 1907 ई. में सूरत अधिवेशन के अवसर पर दोनों में गम्भीर मतभेद हो गये। इस वर्ष सभापति के लिए रास बिहारी बोस चुने गए; जबकि गरम दल वाले बाल गंगाधर तिलक को सभापति बनाना चाहते थे। इसी कारण दोनों में विवाद हो गया और तिलक तथा उनके साथी कांग्रेस से अलग कर दिए गए और 1907 में कांग्रेस का विभाजन हो गया। (2) श्रीमती भीकाजी कामा द्वारा क्या उद्घोष किया गया ?
उत्तर:
श्रीमती भीकाजी कामा के द्वारा यह उद्घोष किया गया -“यह भारत की स्वाधीनता का झण्डा है। देखिए इसने जन्म ले लिया है। शहीद भारतीयों के रक्त से इसे पवित्र किया जा चुका है। मैं भद्रजनों का आह्वान करती हूँ कि आप खड़े होकर भारतीय स्वाधीनता की इस पताका को सलामी दें। इस झण्डे के नाम पर मैं विश्व भर के स्वतन्त्रता प्रेमियों से अपील करती हूँ कि सम्पूर्ण मानव जाति के पाँचवें हिस्से को स्वतन्त्र करने में सहयोग दें।” (3) ‘साम्प्रदायिक पंचाट’ क्या था ? समझाइए।
उत्तर:
ब्रिटेन के प्रधानमन्त्री मेक्डोनल्ड ने 1932 में साम्प्रदायिक पंचाट (पंच निर्णय) की घोषण कर दी जिसमें भारत के हरिजनों के लिए भी अलग निर्वाचक मण्डलों की घोषणा कर दी गई। भारत को तोड़ने और जातियों में बाँटने के लिए ब्रिटिश सरकार की यह एक कूटनीतिक चाल थी। (4) वायु प्रदूषण के प्रमुख कारकों का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
वायु प्रदूषण के प्रमुख कारकों को दो भागों में बाँट सकते हैं –

  • प्राकृतिक कारक – ज्वालामुखी के फूटने पर उसमें से निकलने वाली, गैसें, धुआँ, चट्टान के टुकड़े, राख आदि हवा में मिलकर प्रदूषण फैलाते हैं।
  • मानव जनित कारक – वाहनों द्वारा, उद्योगों द्वारा और घरेलू कार्य; जैसे-कोयला, लकड़ी, मिट्टी का तेल आदि जलाने | से वायु प्रदूषण फैलता है।

(5) ऑस्ट्रेलिया की प्रमुख नदियाँ कौन-कौन सी हैं ?
उत्तर:
मर्रे एवं डार्लिंग ऑस्ट्रेलिया की दो प्रमुख नदियाँ हैं। ये दोनों नदियाँ समुद्र में गिरती हैं। (6) ऑस्ट्रेलिया के प्रमुख नगर एवं बन्दरगाह कौन-कौन से हैं ?
उत्तर:
सिडनी, मेलबोर्न, एडिलेड, वेलिंगटन, पर्थ, फीमैंटल, कैनबरा, ब्रिस्बेन, रॉक हम्पटन आदि प्रमुख नगर एवं बन्दरगाह हैं।   MP Board Class 8th Social Science विविध प्रश्नावली 3 दीर्घ उत्तरीय प्रश्न प्रश्न 5.
(1) गाँधीजी द्वारा समाज सुधार हेतु किए गए कार्यों का उल्लेख कीजिए।
उत्तर:
सामाजिक सुधार को गाँधीजी ने राष्ट्रवादी आन्दोलन का एक अभिन्न अंग बनाया। समाज सुधार के क्षेत्र में उनका बड़ा योगदान रहा। उन्होंने छुआछूत की उस अमानवीय प्रथा के विरोध में अभियान चलाया था जिसने लाखों भारतीयों को अत्यन्त निम्न स्थिति में पहुंचा दिया था। उनका दूसरा योगदान कुटीर उद्योगों के क्षेत्र में था। चरखे को उन्होंने ग्रामीण जनता की मुक्ति का साधन बताया। लोगों में राष्ट्रवाद की भावना भरने के अलावा चरखे से लाखों लोगों को रोजगार उपलब्ध कराया। गाँधीजी ने हिन्दू-मुस्लिम एकता के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। वे साम्प्रदायिकता को राष्ट्रविरोधी और अमानवीय समझते थे। महात्मा गाँधी सत्य और अहिंसा के मार्ग पर चलकर देश की स्वतन्त्रता के लिए प्रयास करते रहे। (2) टिप्पणी लिखिए

  1. वासुदेव फड़के
  2. खुदीराम बोस
  3. साइमन कमीशन।

उत्तर:
1. वासुदेव फड़के-क्रान्तिकारी वासुदेव फड़के क्रान्तिकारी आन्दोलन के अग्रदूत थे। उन्होंने कुछ लोगों को लेकर 1879 में धामरी, बल्टे, पलस्पे आदि ग्रामों पर कब्जा कर लिया। 1879 में उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया तथा उन्हें काले पानी की सजा सुनाई गई। 2. खुदीराम बोस-खुदीराम बोस बंगाल के प्रमुख क्रान्तिकारी थे। 1908 ई. में खुदीराम बोस ने प्रफुल्ल चाकी के साथ मिलकर एक बग्घी पर यह समझकर बम फेंका था कि मुजफ्फरपुर का बदनाम जज किंग्सफोर्ड सवार है, किन्तु अन्दाजा गलत निकला। उसमें दो अंग्रेज महिलाएँ मारी गईं। इस घटना के बाद खुदीराम बोस को फाँसी की सजा दी गई। 3. साइमन कमीशन-वर्ष 1919 के एक्ट को पारित करते समय ब्रिटिश सरकार ने यह घोषणा की थी कि वह 10 वर्ष बाद पुनः इन सुधारों की समीक्षा करेगी, लेकिन नवम्बर, 1927 में एक आयोग की नियुक्ति कर दी। सर जॉन साइमन इसके अध्यक्ष बनाए गए। इसके सभी सात सदस्य अंग्रेज थे। इसे ‘साइमन कमीशन’ के नाम से जाना जाता है। (3) भारत और श्रीलंका के बीच सम्बन्धों का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
भारत से श्रीलंका के घनिष्ठ सम्बन्धों का इतिहास बहुत पुराना है। भगवान राम और उनके बाद सम्राट अशोक के काल में भारत-श्रीलंका सम्बन्ध प्राचीन इतिहास की महत्वपूर्ण कड़ी है। बहुत से भारतीय नागरिक विशेषतः तमिलनाडु के लोग श्रीलंका जाकर बस गए हैं तथा वहाँ चाय और रबड़ के बागानों में कार्य करते हैं। श्रीलंका के साथ भारत के अच्छे व्यापारिक सम्बन्ध हैं। राजनीति के क्षेत्र में भी भारत श्रीलंका के साथ पारस्परिक सहयोग और सहायता की नीति का अनुसरण करता रहा है। यद्यपि भारत-श्रीलंका सम्बन्ध घनिष्ठ और सुदृढ़ हैं, तथापि दोनों देशों के बीच कुछ समस्याएँ भी हैं। भारतीय मूल के निवासी ब्रिटिश शासनकाल से ही रबर और चाय बागानों में काम करने के लिए श्रीलंका जाते रहे हैं और वहाँ बसते रहे हैं। प्रारम्भिक काल में तो कोई समस्या नहीं थी पर श्रीलंका के स्वाधीन होने के बाद श्रीलंका नागरिकता नियम 1948 तथा श्रीलंका संसदीय नियम 1949 के द्वारा अधिकांशतः प्रवासी भारतवासियों को नागरिकता और मताधिकार से वंचित कर दिया गया। तमिल समस्या के कारण भारत और श्रीलंका में तनाव की स्थिति बनी है।   (4) संयुक्त राष्ट्र की आर्थिक एवं सामाजिक परिषद् का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है कि आर्थिक तथा सामाजिक परिषद् संयुक्त राष्ट्र के सामाजिक और आर्थिक कार्यों का संयोजन करती है। यह बाल कल्याण और नारी अधिकारों से सम्बन्धित कार्य करती है। यह उच्च जीवन स्तर तथा आर्थिक एवं सामाजिक परिवर्तन के लिए प्रोत्साहन देती है। इसका उद्देश्य अन्तर्राष्ट्रीय आर्थिक, सामाजिक एवं स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याओं का समाधान करना है। इसका यह भी उद्देश्य है कि ये जाति, भाषा या धर्म पर आधारित किसी प्रकार के भेदभाव के बिना मानव अधिकारों के प्रति व्यापक सम्मान और उसके अनुपालन की दिशा में कार्य करे। इसमें 54 सदस्य होते हैं। प्रत्येक वर्ष 18 सदस्य 3 वर्ष की अवधि के लिए महासभा द्वारा निर्वाचित होते हैं। (5) संयुक्त राष्ट्र में भारत की भूमिका की समीक्षा कीजिए।
उत्तर:
संयुक्त राष्ट्र द्वारा शान्ति के लिए की गई सैन्य कार्यवाही में भारत की महत्वपूर्ण भूमिका रही। संयुक्त राष्ट्र की अपनी कोई निजी सेना नहीं है। कोरिया के युद्ध में घायलों की प्राथमिक चिकित्सा हेतु भारत ने एक चिकित्सकीय दल भेजा था। कोरिया युद्धबन्दियों के आदान-प्रदान की देखरेख का उत्तरदायित्व भारत को दिया गया था। गाजा में संयुक्त राष्ट्र आपातकालीन सैन्य दल में शामिल करने हेतु सबसे बड़ी टुकड़ी भारत ने भेजी थी। साइप्रस राष्ट्र की सेना के प्रथम दो सेनापति भारतीय थे। कांगो में की गई सैन्य कार्यवाही में भारत ने सबसे बड़ा सैन्य दल भेजने का भार अपने ऊपर लिया, जो इस संकट को समाप्त करने में सहायक हुआ था। (6) ऑस्ट्रेलिया के मूल निवासियों के जनजीवन का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
भारत की तरह ऑस्ट्रेलिया भी कृषि प्रधान देश है। गेहूँ यहाँ की प्रमुख फसल है। यहाँ बहुत बड़े-बड़े कृषि फार्म हैं। खेती का सारा काम मशीनों से होता है। ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप के मूल निवासी फलों की पैदावार बहुतायत में करते हैं। महाद्वीप के उत्तर के उष्ण कटिबन्धीय भाग में अन्नानास, केला, पपीता खूब होते हैं। दक्षिण में भूमध्य सागरीय जलवायु वाले प्रदेश में सेब, नाशपाती, नींबू, नारंगी, आड़ और अंगूर की खेती की जाती है। अंगूर से शराब बनाकर निर्यात की जाती है। ऑस्ट्रेलिया के शीतोष्ण जलवायु वाले पूर्वी तथा पश्चिमी क्षेत्रों में नागरिक पशुपालन करते हैं। यह महाद्वीप पशुपालन के लिए विश्व प्रसिद्ध है। पशुओं को आधुनिक तरीकों से पाला जाता है। कुछ पशु दूध, मक्खन और पनीर के लिए तो कुछ पशुओं को माँस व ऊन के लिए पाला जाता है। यहाँ के लोग भेड़ों को मुख्यतः ऊन के लिए पालते हैं और कुछ भेड़ें माँस के लिए भी पाली जाती हैं। यहाँ भेड़ों को बड़े-बड़े बाड़ों (फार्म हाउस) में रखा जाता है, यहाँ काम करने वाले मजदूरों को ‘जेकारू’ कहा जाता है जो भेड़ों को चराने तथा उनकी देखभाल करने का काम करते हैं। ऑस्ट्रेलिया के मूल निवासियों की कड़ी मेहनत एवं लगन के परिणामस्वरूप आज ऑस्ट्रेलिया महाद्वीप संसार का सबसे बड़ा ऊन उत्पादक एवं निर्यातक देश है।