Akbar and Birbal-Reunion

MP Board Class 9th General English The Spring Blossom Solutions Chapter 10 Akbar and Birbal – Reunion

Akbar and Birbal – Reunion Textual Exercises

Word Power

(1) Rearrange the letters to make meaningful words occurring in the text.
(अक्षरों को व्यवस्थित कर अर्थपूर्ण शब्द बनाइए।)
Answer:

  1. marciles – miracles
  2. sestscup – suspect
  3. flou – foul
  4. terchn – trench
  5. eegar – eager

(II) Write down antonyms of the following words:
(विलोम शब्द लिखो।)
Answer:

  1. wisdom – foolishness
  2. terrible – attractive
  3. ignorance – awareness
  4. suspect – believe
  5. best – worst

(III) Make new words from those given.
(नये शब्द बनाओ।)
Answer:
(a) manifest – fest, man, ant, nest, fit, mist, ten, net, set, fat, fan, sin, tin, sit, fin, mat, fine, mine, fast, main, mane, mate, met, safe, fame, tame, same, time, sane, tan.
(b) gravest – grave, rave, rest, get, rat, are, sat, set, vest, at, stare, stag, grate, tear, tag, great, ear, stear, save, gave.
(c) regret – great, tree, get.
(d) embrace – race, brace, beer, beam, cream. came, care, bare, ream, mare, bear.

(IV) Find out the words from the text which mean the following:
(पाठ में से निम्न अर्थ के शब्द ढूँढ़ो।)
Answer:

  1. to cut off someone’s head – behead
  2. follower – disciple
  3. pleasant to listen to – melodious
  4. very unpleasant – foul
  5. curious to know – eager
  6. shining – sparkling
  7. a long deep hole dog in the ground – trench
  8. very serious and important – gravest

How Much Have I Understood?

(a) Choose the correct option
(सही विकल्प चुनो।)

(1) Akbar regretted-
(a) banishing Birbal from the court
(b) meeting Birbal in the court
(c) banishing Tansen from the palace
(d) seeing Tansen in the court.
Answer:
(a) banishing Birbal from the court

(2) The eyes of the saint were-
(a) sparkling
(b) dull
(c) full of tears
(d) dry.
Answer:
(a) sparkling

(3) In the opinion of the wise saint a best friend on the earth is –
(a) his own good sense
(b) his courage
(c) his physical power
(d) his smartness.
Answer:
(a) his own good sense

(4) Akbar was ……….. to meet Birbal again.
(a) happy
(b) sad
(c) angry
(d) disappointed.
Answer:
(a) happy.

(b) Answer the following questions in one or two sentences.
(निम्न प्रश्नों के उत्तर एक या दो वाक्यों में दीजिए।)

Question 1.
Who was Birbal?
(हू वॉज़ बीरबल?)
बीरबल कौन था?
Answer:
Birbal was court jester, friend and confidant of Akbar.
(बीरबल वॉज़ कोर्ट जेस्टर, फ्रेन्ड एण्ड कॉन्फिडेन्ट ऑफ अकबर।)
बीरबल अकबर का दरबारी विदूषक, मित्र व विश्वासपात्र था।

Question 2.
What was the question asked by Abdul Fazal?
(व्हॉट वॉज़ द क्वेश्चन आस्क्ड बाइ अब्दुल फज़ल?)
अब्दुल फज़ल ने क्या प्रश्न पूछा?
Answer:
Abdul Fazal asked what was the deepest trench in the world?
(अब्दुल फज़ल आस्कड व्हॉट वॉज़ द डीपेस्ट ट्रेन्च इन द वर्ल्ड?)
अब्दुल फज़ल ने पूछा कि संसार की सबसे गहरी खाई कौन-सी है?

Question 3.
Which question do you like the most?
(व्हिच क्वैश्चन डू यू लाइक द मोस्ट?)
तुम्हें कौन-सा प्रश्न सबसे ज्यादा पसन्द आया?
Answer:
The question that I liked is “Which is the topmost thing on the earth?”
(द क्वैश्चन दैट आइ लाइक्ड इज़- “व्हिच इज़ द टॉपमोस्ट थिंग ऑन द अर्थ?”)
प्रश्न जो मुझे पसन्द आया-“पृथ्वी पर सबसे ऊँची वस्तु कौन-सी है?”

Question 4.
Who was the wise saint?
(हू वॉज़ द वाईज सेन्ट?)
बुद्धिमान साधू कौन था?
Answer:
The wise saint was Birbal.
(द वाईज सेन्ट वॉज़ बीरबल।)
बुद्धिमान साधू बीरबल था।

(c) Answer the following questions in three to four sentences.
(निम्न प्रश्नों का उत्तर तीन या चार वाक्यों में दीजिए।)

Question 1.
Why did Akbar order Birbal to leave the city of Agra?
(व्हाय डिड अकबर ऑर्डर बीरबल टू लीव द सिटी ऑफ आगरा?)
अकबर ने बीरबल को आगरा छोड़ने का आदेश क्यों दिया?
Answer:
One day Birbal happened to pass a harmless comment about Akbar’s sense of humour. But emperor Akbar was in a foul mood and took great offense to this remark. So he asked Birbal to leave Agra.
(वन डे बीरबल हैपन्ड टू पास अ हार्मलेस कमेन्ट अबाउट अकबर्स सेन्स ऑफ हूमर बट एम्परर अकबर वॉज़ इन अ फाउल मूड एण्ड टुक ग्रेट ऑफेन्स टू दिस रिमार्क। सो ही आस्कड् बीरबल टू लीव आगरा।)
एक दिन बीरबल ने अकबर के हास्य बोध पर एक टिप्पणी की। अकबर ने उसे अपना अपमान समझा व उसे आगरा छोड़ने का आदेश दिया।

Question 2.
Why did Akbar want to appoint a wise man in his court?
(व्हाय डिड अकबर वॉन्ट टू एपॉइन्ट अ वाइज मैन इन हिज़ कोर्ट?)
अकबर एक बुद्धिमान व्यक्ति को दरबार में नियुक्त क्यों करना चाहते थे?
Answer:
Akbar had banished Birbal from his court in anger. But after some time he repented his ded and began to miss him. So he wanted to appoint a wise man in his court to keep him company.
(अकबर हैड बैनिश्ड बीरबल फ्रॉम हिज़ कोर्ट इन एंगर। बट आफ्टर सम टाइम ही रिपेन्टिड हिज़ डीड एण्ड बिगैन टू मिस हिम। सो ही वॉन्टेड टू एपॉइन्ट अ वाईज़ मैन इन हिज़ कोर्ट ट्र कीप हिम कम्पनी।)
अकबर ने बीरबल को गुस्से में निष्कासित कर दिया था। मगर कुछ समय बाद उसे अफसोस होने लगा और उसे बीरबल की कमी खलने लगी। इसीलिए वह एक बुद्धिमान व्यक्ति को नियुक्त करना चाहता था जो उसकी कमी को पूरा कर सके।

Question 3.
What was the condition put forth before the saint?
(व्हॉट वॉज़ द कन्डीशन पुट फोर्थ बिफोर द सेन्ट?)
सन्त के सामने क्या शर्त रखी गई?
Answer:
The condition that was put forth before the saint was that all the ministers would ask him a question and if his answers were satisfactory he would be made a minister. But if he could not he would be beheaded.
(द कन्डीशन दैट वॉज़ पुट फोर्थ बिफोर द सेन्ट वॉज़ दैट ऑल द मिनिस्टर्स वुड आस्क हिम अक्वैश्चन एण्ड इफ हिज़ आन्सर्स वर सैटिस्फैक्ट्री ही वुड बी मेड अ मिनिस्टर। बट इफ ही कुड नॉट ही वुड बी बिहेडेड।)
सन्त के सामने यह शर्त रखी गई कि सभी मन्त्री उससे प्रश्न पूछेगे। सभी प्रश्नों का सन्तोषजनक उत्तर देने पर उसे मन्त्री बनाया जायेगा, यदि नहीं तो उसका सिर काट दिया जायेगा।

Question 4.
What was the questions asked by Tansen?
(व्हॉट वाज़ द क्वैश्चन्स आस्कड बाइ तानसेन?)
तानसेन ने कौन-सा प्रश्न पूछा?
Answer:
Tansen asked-What is undying in music? What is the sweatest and most melodious voice at night time?
(तानसेन आस्क्ड-व्हॉट इज अनडाइंग इन म्यूजिक? व्हॉट इज़ द स्वीटेस्ट एण्ड मोस्ट मेलोडिअस वॉइस एट नाईट टाइम?)
तानसेन ने पूछा-संगीत में अमर क्या है? रात्रि में सबसे मधुर ध्वनि कौन-सी होती है?

Question 5.
Which miracle was performed by the wise saint?
(व्हिच मिरेकल वॉज़ परफॉर्ड बाइ द वाईज़ सेन्ट?)
बुद्धिमान सन्त ने क्या चमत्कार किया?
Answer:
The miracle performed by the wise saint was that he presented Birbal before the emperor that is, the person he wanted to meet.
(द मिरैकल परफॉर्ड बाइ द वाईज़ सेन्ट वॉज़ दैट ही प्रेजेन्टिड बीरबल बिफोर द एम्परर दैट इज़, द पर्सन ही वॉन्टेड टू मीट।)
चमत्कार यह था कि सन्त ने बीरबल को सम्राट के समक्ष पेश कर दिया जिससे वे मिलना चाहते थे।

Language Practice

Rewrite the following as reported questions
(निम्न प्रश्नों को रिपोर्टेड प्रश्न के रूप में लिखिए।)

Question 1.
He said to me, “Will you take part in the debate?”
Answer:
He asked me if I would take part in the debate.

Question 2.
Leela said to Dinesh, “Can I borrow your book for a day?”
Answer:
Leela asked Dinesh if she could borrow his book for a day.

Question 3.
He asked me, “When do you intend to go to Mumbai?”
Answer:
He asked me when I intended to go to Mumbai.

Question 4.
The guest asked me, “When did you purchase the hosue?”
Answer:
The guest asked me when I purchased the house.

Rewrite the given sentences in indirect speech.
(अप्रत्यक्ष कथन लिखो।)

Question 1.
The doctor said to the patient, “Don’t eat too much sweet.”
Answer:
The doctor told the patient not to eat too much sweet.

Question 2.
The teacher said to the students, “Work word if you want to score good marks”.
Answer:
The teacher told the students to work hard if they wanted to score good marks.

Question 3.
The stranger said to me, “Please give me a lift in your car.”
Answer:
The stranger requested me to give him a lift in my car.

Question 4.
The officer said to his soldiers, “Capture that hill at any cost.”
Answer:
The officer ordered his soldiers to capture the hill at any cost.

Write the given interview in reported speech.
(साक्षात्कार को रिपोर्टेड कथन में लिखो।)
Answer:

  1. The interviewer asked Devanshi what her qualifications were.
  2. She replied that she was M.A., B.Ed.
  3. The interviewer asked her which school had she taught in.
  4. She replied that she had taught in Model School and Kendriya Vidyalaya.
  5. The interviewer, asked her why she wanted to leave a secure job of Kendriya Vidyalaya.
  6. She replied that it was a transferable job and she wanted to settle there with her family.
  7. The interviewer asked her what her present salary was.
  8. She replied that she was getting Rs. 7,000 per month.

Convert the given queries into indirect speech.
(दिए गए प्रश्नों को अप्रत्यक्ष कथन में लिखो।)
Answer:

  1. She wants to know what the most interesting sights are.
  2. He wants to know if we’ve got a town map.
  3. He wants to know how could he find out about the area.
  4. He wants to know where they can stay.
  5. She wants to know what shows are on there.

Listening Time

Listen to your teacher carefully and tick the number of words which do not rhyme with others.
(उन शब्दों को चिह्नित करो जो दूसरे शब्दों से तुकान्त न हों।)
Answer:
Students should do themselves with the help of their teacher.
(छात्र शिक्षक की मदद से स्वयं करें।)

Speaking Time

Imagine that you are a coach who coaches some players. You hear about Atul’s behaviour. You call him and advise him about the nasty way in which he treated Mukul. Complete this dialogue between the two.
(अतुल ब मुकुल के बीच वार्तालाप पूरा करो।)
Answer:
Coach : I have heard that you insulted Mukul.
Atul : Where did you hear about this, sir?
Coach : Is that true or not?
Atul : Yes, sir, it’s true.
Coach : You should not hurt anybody.
Atul : I did not mean to hurt him. I just felt that a sixth standard boy did not deserve a place in the team.
Coach: But you have done a wrong deed and you should realize it.
Atul : I realize I was wrong.
Coach : There should be team spirit in sports.
Atul : Yes, sir I have understood the importance of team spirit in sports.

Writing Time

Write a letter to your friend telling him/her how Akbar and Birbal were reunited.
(अपने मित्र को अकबर व बीरबल का पुनर्मिलन कैसे हुआ यह बताते हुए पत्र लिखो।)
Answer:
52, Ravindra Nagar
Ujjain (M. P.)
12 July 20….

Dear Sanjay,

Hope you are fine there, I am also fine here. Today I am writing to you to tell you about a very interesting story of Akbar and Birbal that I have read in my text book.

The story was about the reunion of Akbar and Birbal. Once Akbar got annoyed with Birbal as he gave a harmless remark on Akbar’s sense of humour. But Akbar took it seriously and banished Birbal from his kingdom. But after a few days he began to miss him and regret his decision. Then one day a wise saint came to his court. Since, Akbar was missing a wise person in his court he thought to keep the saint in his court if his wisdom is proved.

He asks the saint that his courtiers would ask him certain questions if he is able to answer them properly he would keep him as his courtier, otherwise he would be beheaded. The saint answers all the questions wisely. Then Akbar asks him if he can do some magic. The saint said that he can present any person before him. Akbar asks him to present Birbal. The saint removes his beard and moustaches as he himself was Birbal. Akbar becomes very happy and in this way they get reunited.

I hope you had liked the story as I also liked it very much. Now I am stopping to write. More in next. Rest is fine.

Yours truely
Mahesh

Things to do

(1) Read any other play story on Akbar and Birbal, then enact it in your classroom with your classmates.
(अकबर और बीरबल का कोई और नाट्य पढ़ो व उसको अपनी कक्षा में अभिनीत करो।)
Answer:
Students can do themselves.
(छात्र स्वयं करें।)

Akbar and Birbal – Reunion Difficult Word-Meanings

Akbar and Birbal – Reunion Summary, Pronunciation & Translation

[1] One day, when Akbar and Birbal were in discussion, Birbal happened to pass a harmless comment about Akbar’s sense of humour. But Emperor Akbar was in a foul mood and took great offense to this remark. He asked Birbal, his court jester, friend and confidant to not only leave the palace but also to leave the walls of the city of Agra. Birbal was terribly hurt at being banished.

(वन डे, व्हेन अकबर एण्ड बीरबल वर इन डिस्कशन, बीरबल, हैपन्ड टु पास ए हार्मलेस कमेन्ट अबाउट अकबर्स सेन्स ऑफ ह्यूमर बट एम्परर अकबर वाज़ इन अ फाउल मूड एण्ड टुक ग्रेट आफेन्स टु दिस रिमार्क। ही आस्क्ड बीरबल, हिज़ कोर्ट जेस्टर, फ्रेंड एण्ड कान्फिडेन्ट टु नाट ओनली लीव द पेलेस बट अल्सो टु लीव द वाल्स ऑफ द सिटी ऑफ आगरा। बीरबल वाज़ टेरिबली हर्ट एट बीइंग बेनिश्ड।)

हिन्दी अनुवाद :
एक दिन जब अकबर व बीरबल बातचीत कर रहे थे तो बीरबल ने उनकी विनोदप्रियता पर एक हानिरहित टिप्पणी कर दी। किन्तु सम्राट अकबर जरा बुरे मूड में थे और उनकी टिप्पणी का बहुत बुरा माना। उन्होंने बीरबल, उनके दरबार के विदूषक, परम मित्र एवं विश्वास पात्र को न केवल राजमहल से बल्कि आगरा शहर की सीमा से निकल जाने को कहा। बीरबल उनके निकाले जाने पर बहुत ही दुःखी हुए।

[2] A couple of days later. Akbar began to miss his best friend. He regretted his earlier decision of banishing him from the courts. He just could not do without Birbal and so sent out a search party to look for him. But Birbal had left town without lefting anybody know of his destination. The soldiers searched high and low but were unable to find him anywhere.

(अ. कपल ऑफ डेज़ लेटर, अकबर विगेन टु मिस हिज बेस्ट फ्रेंड। ही रिग्रेटेड हिज अलियर डिसिजन ऑफ बेनिशिंग हिम फ्राम द कोर्टस। ही जस्ट कुड नाट डू विदाउट बीरबल एण्ड सो सेन्ट आउट अ सर्च पार्टी टु लुक फोर हिम। बट बीरबल हैड लेफ्ट टाउन विदाउट लेफ्टिंग एनीबडी नो ऑफ हिज़ डेस्टिनेशन। द सोल्जर्स सर्ल्ड हाय एण्ड लो बट वर अनेबल टु फाइन्ड हिम एनीव्हेयर।)

हिन्दी अनुवाद :
दो दिन बाद ही अकबर को अपने परम मित्र की याद आने लगी। अकबर को उसे दरबार से निकाले जाने के अपने निर्णय पर पछतावा होने लगा। वह बिना बीरबल के रह ही नहीं सकता और इसीलिए उसने उसे ढूँढ़ने के लिये एक खोजी पार्टी भेजी। किन्तु बीरबल किसी को अपना पता बताये बिना शहर छोड़कर जा चुका था। सिपाहियों ने उसे यहाँ वहाँ सब जगह ढूँढ़ा पर वे उसे कहीं भी मिले नहीं।

[3] Then, one day a wise saint came to visit the palace accompanied by two of his disciples. The disciples claimed that their teacher was the wisest man to walk the earth. Since Akbar was missing Birbal terribly, he thought it would be a good idea to have a wise man that could keep him company. But he decided that he would first test the holy man’s wisdom.

The saint had bright sparkling eyes, a thick beard and long hair. The next day, then they came to visit the court.Akbar informed the holy man that, since he was. the wisest man on the earth, he would like to test him.

(देन वन डे अ वाइज़ सेण्ट केम टु विजिट द पेलेस एकम्पनीड बाय टू ऑफ हिज डिसाइपल्स। द डिसाइपल्स क्लेम्ड दैट देयर टीचर वाज़ द वाइजेस्ट मैन टु वाक द अर्थ सिन्स अकबर वाज़ मिसिंग बीरबल टेरिबली, ही थाट इट वुड बी अ गुड आइडिया टु हैव अ वाइज़मैन दैट कुड कीप हिम कम्पनी। बट ही डिसाइडेड दैट ही वुड फर्स्ट टेस्ट द होलीमेन्स विसडम।

द सेण्ट हैड ब्राइट स्पार्कलिंग आइज़, अथिक बीअर्ड एण्ड लांग हेअर द नेक्स्ट डे व्हेन दे केम टु विजिट द कोर्ट। अकबर इन्फार्ड द होली मैन दैट, सिन्स ही वाज़ द वाइजेस्टमैन आन अर्थ, ही वुड लाइक टू टेस्ट हिम।)

हिन्दी अनुवाद :
फिर, एक दिन एक बुद्धिमान सन्त अपने दो शिष्यों के साथ राजमहल की सैर करने आया। शिष्यों ने दावा किया कि उनके गुरु दुनिया के सबसे बुद्धिमान व्यक्ति हैं। चूंकि अकबर बुरी तरह से बीरबल की गैर हाजिरी से परेशान था, उसने सोचा कि ऐसे बुद्धिमान व्यक्ति को पाना एक अच्छा काम होगा, जो उसे संगति दे। किन्तु पहले उसे उस साधु की बुद्धिमत्ता की परीक्षा लेनी होगी।

साधु की चमकीली आँखें, घनी दाढ़ी व लम्बे बाल थे। अगले दिन जब वे दरबार में आये तो अकबर ने उस साधु को सूचित किया कि चूंकि वह धरती पर सबसे बुद्धिमान व्यक्ति है। वह उनकी परीक्षा लेना चाहता है।

[4] All his ministers would put forward questions and if his answers were satisfactory he would be made a minister. But if he could not, then he would be beheaded. The saint answered that he had never claimed to be the wisest man on the earth, even though other people seemed to think so, nor was he eager to display his cleverness, but as he enjoyed answering questions, he was ready for the test.

(ऑल हिज़ मिनिस्टर वुड पुट फारवर्ड कवेश्चन्स एण्ड इफ हिज़ आन्सर्स वर सेटिसफेक्टरी ही वुड बी मेड अ मिनिस्टर। बट इफ ही कुड नाट, देन ही वुड बी बिहेडेड। द सेण्ट आन्सर्स दैट ही हेड नेवर क्लेम्ड टु बी द वाइज़ेस्ट मैन ऑन अर्थ, इवन दो आदर पीपुल सीम्ड टु थिंक सो, नॉर बाज़ ही ईगर टु डिस्प्ले हिज़ क्लेवरनैस, बट एज़ ही इन्जॉइड आन्सरिंग क्वेश्चन्स, ही वाज रेडी फोर द टेस्ट।)

हिन्दी अनुवाद :
उसके सभी मंत्री उससे प्रश्न पूछेगे और यदि, उसके उत्तर सन्तोषजनक हुए तो उसे एक मंत्री बना दिया जायेगा। परन्तु यदि वह ऐसा नहीं कर सका तो उसका सिर कलम कर दिया जाएगा। सन्त ने उत्तर दिया कि वह इस धरती पर सबसे बुद्धिमान होने का दावा नहीं करता, ये अलग बात है कि दूसरे व्यक्ति ऐसा सोचते होंगे, न ही वह अपनी चतुराई का प्रदर्शन करना चाहता था पर चूँकि उसे प्रश्नों के उत्तर देने में मजा आता है, इसलिये वह इस परीक्षा के लिए तैयार है।

[5] One of the ministers, Raja Todarmal, began the round of questioning.
He asked : Who is man’s best friend on the earth?
The saint replied : His own good sense.
Fazal asked : Which is the topmost thing on the earth?
The saint answered : Knowledge,
Abdul Fazal : Which is the deepest trench in the world?
The saint answered : A woman’s heart.
Another courtier questioned : What is that which can not be regained after it is lost?
The saint answered : Life.
The court musician Tansen asked : What is undying in music?
The saint replied : Notes.
And then he asked : Which is the sweetest and most melodious voice at night time?
The saint answered : The voice that prays to God.

(वन ऑफ द मिनिस्टर्स, राजा टोडरमल बिगेन द राउण्ड ऑफ क्वेश्चनिंग
ही आस्क्ड : हू इज मेन्स बेस्ट फ्रैंड ऑन अर्थ?
द सेन्ट रिप्लाईड : हिज़ ओन गुड सेन्स। फैजी
आस्कड : विच इज़ द टापमोस्ट थिंग ऑन द अर्थ?
द सेंट आनई : नॉलेज।।
अब्दुल फैजल : विच इज़ द डीपेस्ट ट्रेन्च इन द वर्ल्ड?
द सेंट आन्सर्ड : अ वुमेन्स हार्ट।
अनादर कोर्टियर क्वेश्चन्ड : व्हॉट इज़ दैट विच केन नाट रिगेन्डआफ्टर इट इज़ लॉस्ट?
सेंट आन्सर्ड : लाइफ।
द कोर्ट म्यूजिशियन तानसेन आस्कड : व्हाट इज़ अन डाईंग इन म्यूजिक?
द सेंट रिप्लाईड : नोट्स।
एण्ड देन ही आस्क्ड : विच इज़ द स्वीटेस्ट एण्ड मोस्ट मेलोडियस वाईस एट नाइट टाइम।
द सेंट आन्सर्ड : दे वाईस दैट प्रेज टू गॉड।)

हिन्दी अनुवाद :
मंत्रियों में से एक राजा टोडरमल ने प्रश्नों को पूछना शुरू किया
उन्होंने पूछा : धरती पर मनुष्य का सबसे अच्छा मित्र कौन है?
सन्त ने उत्तर दिया : उसकी खुद की समझदारी। फैजी ने पूछा-दुनिया में सबसे ऊँची वस्तु क्या है?
सन्त का उत्तर था : ज्ञान।।
अब्दुल फजल : दुनिया में सबसे गहरी खाई क्या है?
सन्त ने उत्तर दिया : किसी स्त्री का हृदय।
दूसरे दरबारी ने पूछा : कौन सी ऐसी वस्तु है जो खो जाने के बाद नहीं मिलती?
सन्त ने उत्तर दिया : जीवन।
दरबारी संगीतज्ञ तानसेन ने पूछा : संगीत में कौन सी चीज अमर है?
सन्त ने कहा : सुर (आवाज)
फिर उसने पूछा : रात्रि के समय अत्यन्त मधुर व संगीतमय आवाज कौन-सी है?
सन्त ने जवाब दिया-वह आवाज़ जो ईश्वर की प्रार्थना करती है।

[6] Maharaj Man Singh of Jaipur, a guest at the palace, asked : What travels more speedily than wind?
The saint replied : It is man’s thought.
He then asked : Which is the sweetest thing on the earth?
The saint said : It is a baby’s smile.
The Emperor Akbar and all his courtiers were very impressed with his answers but wanted to test the saint himself.
Firstly, he asked : What are the necessary requirements to rule over a kingdom?
The saint answered : Cleverness.
Then he asked : What is the gravest enemy of a king?
The saint replied : It is selfishness

(महाराज मानसिंह ऑफ जयपुर, अ गेस्ट एट द पैलेस आस्कड-व्हाट ट्रेवेल्स मोर. स्पीडिली देन विन्ड?
द सेण्ट रिप्लाइड : इट इज मेन्स थॉट। ही देन आस्कड-व्हिच इज द स्वीटेस्ट थिंग ऑन अर्थ?
द सेण्ट सेड : इट इज़ अ बेबीज स्माइल।
द एम्परर अकबर एण्ड ऑल हिज कोर्टियर्स वर वेरी इम्प्रेस्ड विद हिज़ आन्सर्स बट वान्टेड टु टेस्ट द सेंट हिमसेल्फ।
‘फर्स्टली, ही आस्क्ड : व्हाट आर नेसेसरी रिक्वायरमेण्ट टु रूल ओवर अ किंगडम?
द सेंट आन्सर्ड : क्लेवरनेस।
देन ही आस्कड : व्हाट इज द ग्रेवेस्ट एनिमी ऑफ ए किंग?
द सेंट रिप्लाइड : इट इज़ सेलिफिशनेस।)

हिन्दी अनुवाद :
जयपुर के महाराज मानसिंह, जो कि राजमहल में एक मेहमान थे, ने पूछ-हवा से तेज कौन सी चीज़ चलती है?
सन्त ने उत्तर दिया : मनुष्य का मन। उन्होंने फिर पूछा-धरती पर सबसे मधुर चीज कौन सी है?
सन्त ने उत्तर दिया : एक शिशु (बालक) की मुस्कान।
सम्राट अकबर और उनके दरबारी सन्त के उत्तरों से बहुत प्रभावित हुए। पर अकबर सन्त की खुद परीक्षा लेना चाहते थे।
सबसे पहले उन्होंने पूछा : एक राज्य पर शासन करने के लिए राजा के लिए कौन-सी आवश्यक चीजें हैं?
सन्त ने उत्तर दिया : चतुराई।
फिर उन्होंने पूछा : किसी राजा का भयंकर शत्रु कौन है?
सन्त ने उत्तर दिया : स्वार्थ।

[7] The emperor was so pleased that he offered the saint a seat of honour and asked him whether he could perform any miracles. The saint said that he could produce any person the king wished to meet. Akbar was thrilled and immediately asked to meet .his minister and best friend Birbal.

(द एम्परर वाज़ सो प्लीज्ड दैट ही आफर्ड द सेन्ट अ सीट ऑफ हॉनर एण्ड आस्कड हिम वेदर ही कुड परफार्म एनी मिरेकल्स। द सेन्ट सैड दैट ही कुड प्रोड्यूस एनी पर्सन द किंग विश्ड टु मीट। अकबर वाज़ थ्रिल्ड एण्ड इमीजिएटली आस्कड टु मीट द मिनिस्टर एण्ड बेस्ट फ्रेन्ड बीरबल।)

हिन्दी अनुवाद :
सम्राट इतना प्रसन्न हुआ कि उसने सन्त को अपने दरबार में एक सम्मानीय पद देने की पेशकश की और उससे पूछा कि क्या सन्त कोई चमत्कार कर सकता है? सन्त ने कहा कि वह ऐसे किसी व्यक्ति को पेश कर सकता है जिससे राजा मिलने की इच्छा रखता हो। अकबर रोमांचित हुआ और उसने अपने परम मित्र बीरबल से मिलने की इच्छा जताई।

[8] The saint simply pulled off his artificial beard urprise of the other courtiers. Akbar was stunned and could not believe his eyes. He stepped down to embrace the saint because he was none other than Birbal.

Akbar had tears in his eyes as he told Birbal that he had suspected it to be him and had therefore asked him whether he could perform miralces. He showered Birbal with many valuable gifts to show him how happy he was at his return.

(द सेण्ट सिम्पली पुल्ड ऑफ हिज़ आर्टिफिशियल बीयर्ड एण्ड हेयर टु द सरप्राइज़ ऑफ द आदर कोर्टियर्स। अकबर वाज़ स्टन्ड एण्ड कुड नॉट विलीव हिज़ आईज। ही स्टेप्ड डाउन टु इम्ब्रेस द सेंट बिकाज़ ही वाज़ नन आदर देन बीरबल।

अकबर हैड टीअर्स इन हिज़ आईज़ एज़ ही टोल्ड बीरबल दैट ही हैंड सस्पेक्टेड इट टु बी हिम एण्ड हैड देअरफोर आस्कड हिम वेदर ही कुड परफार्म मिरेकल्स। ही शावर्ड बीरबल विद मेनी वेल्युएबल गिफ्ट्स टु शो हिज हाउ हैप्पी ही वाज़ एट हिज़ रिटर्न।)

हिन्दी अनुवाद :
सन्त ने सहजता से अपनी नकली दाढ़ी एवं बाल खोल लिये। सारे दरबारी अचम्भित थे। अकबर उसे देखकर स्तब्ध था और अपनी आँखों पर विश्वास नहीं हो रहा था। सिंहासन से नीचे उतरकर उसने सन्त को गले से लगा लिया क्योंकि वह सन्त और कोई नहीं बल्कि बीरबल था।

अकबर की आँखों में यह कहते हुए आँसू आ गये कि वह उसके प्रति शंकालु था और इसलिए उसने कहा कि क्या वह कोई चमत्कार कर सकता है। उसने बीरबल पर कई कीमती उपहारों की बौछार कर दी और यह बताया कि उसकी वापसी से वह कितना खुश था।