MP Board Class 9th General English The Spring Blossom Solutions Chapter 1 O Light!

MP Board Class 9th General English The Spring Blossom Solutions Chapter 1 O Light!

O Light! Textual Exercises

Word Power

(i) Encircle the odd one among the similar sounding words:
(असमान शब्द छाँटिए)
Answer:

(ii) Match the words with their meanings given as under:
(सुमेलित कीजिए)


Answer:
(1) → (c)
(2) → (d)
(3) → (e)
(4) → (b)
(5) → (a)

How Much Have I Understood?

(A) Answer these questions in one or two sentences
(निम्न प्रश्नों के उत्तर एक या दो वाक्यों में दीजिए।)

Question 1.
What is the sun?
(व्हॉट इज़ द सन?)
सूर्य क्या है?
Answer:
The sun is the source of light.
(द सन इज़ द सोर्स ऑफ लाईट।)
सूर्य प्रकाश का स्रोत है।

Question 2.
Who is the poem addressed to?
(हू इज द पोऍम अड्रेस्ड टू?)
कविता किसको सम्बोधित है?
Answer:
The poem is addressed to light.
(द पोऍम इज़ एड्रेस्ड टू लाईट।)
कविता प्रकाश को सम्बोधित है।

Question 3.
Whose life and soul is the light?
(हूज़ लाइफ एण्ड सोल इज़ द लाईट?)
प्रकाश किसका जीवन व आत्मा है?
Answer:
The light is the life and soul of sun.
(द लाइट इज द लाइफ एण्ड सोल ऑफ सन)
प्रकाश सूर्य का जीवन व आत्मा है।

Question 4.
Is the light wisdom’s daughter?
(इज़ द लाइट विज़डम्स डॉटर?)
क्या रोशनी (प्रकाश) विवेक की पुत्री है?
Answer:
No, light is not wisdom’s daughter.
(नो, लाईट इज़ नॉट विजडम्स डॉटर।)
नहीं, रोशनी (प्रकाश) विवेक की पुत्री नहीं है।

(B) Answer these questions in three or four sentences.
(निम्न प्रश्नों के उत्तर तीन या चार वाक्यों में दीजिए।)

Question 1.
‘Light is the form of knowledge.’ Elaborate.
(‘लाईट इज़ द फॉर्म नॉलेज’ इलैबोरेट।)
‘प्रकाश ज्ञान का स्वरूप है।’ विस्तार से बताइये।
Answer:
When a man sleeps he only sees darkness. He cannot do anything. But when light comes he wakes up. He can do anything. An ignorant person is like a sleeping person. When he gets knowledge, he becomes powerful. So’we can say that light is the form of knowledge

(व्हेन अ मैन स्लीप्स ही ओनली सीज़ डार्कनेस। ही कैन नॉट डू एनीथिंग। बट व्हेन लाईट कम्स ही. वेक्स अप। ही कैन डू एनीथिंग। एन इगनोरेन्ट पर्सन इज़ लाइक अ स्लीपिंग पर्सन। व्हेन ही गेट्स नॉलेज, ही बिकम्स पावरफुल। सो वी कैन से दैट लाईट इज द फॉर्म ऑफ नॉलेज।)

जब कोई व्यक्ति सोता है तो उसे सिर्फ अन्धकार दिखाई देता है। वह कुछ भी करने में सक्षम नहीं होता। परन्तु जब सूर्य का प्रकाश फैलता है तो वह जाग उठता है। तब वह कुछ भी कर सकता है। एक अज्ञानी व्यक्ति भी सोए हुए व्यक्ति की तरह होता है। जब ज्ञान का प्रकाश उसके अज्ञान रूपी अन्धकार को दूर करता है तब वह प्रबुद्ध हो जाता है। इस प्रकार हम कह सकते हैं कि ज्ञान प्रकाश का स्वरूप है।

Question 2.
Why does the poet long for the light? Give some references from the poem.
(व्हॉय डज द पोएट लाँग फोर द लाईट? गिव सम रेफरेन्सेस फ्रॉम द पोऍम।)
कवि प्रकाश की इच्छा क्यों करता है? कविता से कुछ सन्दर्भ दीजिए।
Answer:
The poet longs for light because he wants to know from the light, the following things :
(a) When was it born?
(b) Who made it?
(c) What is it?
(d) What is its nature?

“(द पोऍट लॉग्स फॉर लाईट बिकॉज़ ही वॉन्ट्स टू नो फ्रॉम द लाईट, द फॉलोइंग थिंग्स:
(a) व्हेन वॉज़ इट बॉर्न?
(b) हू मेड इट?
(c) व्हॉट इज़ इट?
(a) व्हॉट इज़ इट्स नेचर?)

कवि प्रकाश की कामना इसलिए करता है क्योंकि वह उससे यह जानना चाहता है कि वह कबं पैदा हुआ, उसे किसने बनाया, वह क्या है तथा उसकी प्रकृति क्या है?

Question 3.
The poet has used the word ‘she’. Who has this word been referred to?
(द पोऍट हैज यूज्ड द वर्ड ‘शी’। हू हैज दिस वर्ड वीन रैफर्ड टू?)
कवि ने स्त्री सूचक ‘वह’ शब्द का प्रयोग किया है। इस शब्द.का इशारा किसकी ओर है?
Answer:
‘She’ refers to mother nature.
(‘शी’ रैफर्स टू मदर नेचर।)
उसका इशारा प्रकृति माता की ओर है।

Question 4.
Find out the lines of the poem where the poet praises the light.
(फाइन्ड आउट द लाइन्स ऑफ द पोऍम व्हेअर द पोऍट प्रेज़ेज़ द लाईट।)
वे पंक्तियाँ ढूँढ निकालिए जिनमें कवि ने उजाले की प्रशंसा की है।
Answer:
The lines are-
The sun is the body, you are its life-spark.
Perhaps you are wisdom’s clarity.
Perhaps you are the form of knowledge.

Listening Time

Complete the following stanza.
(निम्नलिखित पद्यांश को पूरा करिए।)
Answer:
O Light, who are you?
Daughter of the sun?
No, you are the sun’s life, his soul,
We praise you in the sun.
The sun is the body, you are its life-spark.

Speaking Time

(1) The sun is the source of light. Think for other sources of light and talk about those sources.
(प्रकाश के स्रोतों के बारे में लिखिए।)
Answer:

  1. Fire is the source of light.
  2. Electricity is the source of light.
  3. Moon is the source of light at night.
  4. Candle is the source of light.
  5. Stars are the source of light.

(2) In the morning when light spreads, darkness disappears. Discuss in groups and describe what happens when light fades?
(जब रोशनी कम हो जाती है तो क्या होता है वर्णन कीजिए)
Answer:

  1. When light fades sun disappears.
  2. When light fades it becomes dark.
  3. When light fades moon and stars appear.
  4. When light fades sky. becomes black.

Writing Time

Write the poem “O Light!” in prose form.
(कविता ‘ओ उजाले’ गद्यांश के रूप में लिखिए।)
Answer:
Students should do themselves.
(छात्र स्वयं करें।)

Things to do

(1) Make a list of the different planets of the solar system and draw a diagram in proper order.
(विभिन्न ग्रहों के नाम लिखो व चित्र बनाओ।)
Answer:
Different planets of the solar system are:

  1. Mercury
  2. Venus
  3. Earth
  4. Mars
  5. Jupiter
  6. Saturn
  7. Uranus
  8. Neptune.

Students can draw the diagram of the solar system themselves placing the planets in the above order.

(2) Light is the source of energy. Write at-least five different uses of light in our day to day life.
(प्रकाश के पाँच उपयोग लिखिए।)
Answer:
Uses of light:

  1. Light makes things visible.
  2. Light is the source of heat.
  3. Light kills harmful germs in the atmosphere.
  4. Light in the form of solar energy can be used to cook food.
  5. Solar energy is used to obtain electricity through solar cells.

O Light! Central Idea of the Poem

The poet says that light is the soul of the sun. Later on he calls this light as wisdom and knowledge. The poet says that the nature is the enchanter, for it has created light. In the end the poet praises the light to prosper and bring the light of knowledge in this world.

O Light! Difficult Word Meanings

soul (सोल)-spirit of a person आत्मा; Praise (प्रेज़)-to express admiration प्रशंसा करना; life spark (लाइफ स्पाक)-life giving light जीवनदायी प्रकाश; clarity (क्लैरिटी)-the quality of being expressed clearly स्पष्टता; merge (मज)-combine मिलना; she (शी)-mother nature (symbolical use) प्रकृति; bewitcher (बिवियर)-one who puts a magical spell (जादू करने वाला); prosper (प्रॉस्पर)-to be successful, समृद्ध होना।

O Light! Summary, Pronunciation & Translation

[1] O Light, who are you?
Daughter of the sun?
No, you are the sun’s life, his soul
We praise you in the sun.
The sun is the body, you are its life-spark
When were you born, O Light?
Who made you?

(ओ लाइट हू आर यू?
डॉटर आफ द सन?
नो, यू आर द सन्स लाइफ, हिज़ सोल!
वी प्रेज़ यू इन द सन द सन
इज़ द बॉडी, यू आर इट्स लाइफ स्पार्क
व्हेन वर यू बॉर्न, ओ लाइट?
हू मेड यू?)

हिन्दी अनुवाद :
हे रोशनी, तुम कौन हो?
सूर्य की पुत्री?
नहीं, तुम सूर्य का जीवन हो, उसकी आत्मा हो,
हम तुम्हारी सूर्य में स्तुति करते हैं।
सूर्य शरीर है, तुम उसके जीवन की चिंगारी हो
तुम कब पैदा हुईं, हे रोशनी?
तुम्हें किसने बनाया?

[2] O Light, what are you?
What is you nature?
Are you wisdom’s daughter?
But Wisdom sleeps.

(ओ लाइट, व्हॉट आर यू?
व्हॉट इज यूअर नेचर?
आर यू बिस्डम्स डॉटर?
बट विस्डम स्लीप्स।)

हिन्दी अनुवाद :
हे रोशनी, तुम क्या हो?
तुम्हारा स्वभाव कैसा है?
क्या तुम बुद्धि की पुत्री हो?
किन्तु बुद्धि तो सोई रहती है।

[3] Perhaps you are its clarity
Perhaps you are the form of knowledge.
O Light, for how long have you
befriended the sky?
And wherefore this love of it?
How do you completely merge in it?

(परहेप्स यू आर इट्स क्लैरिटी
परहेप्स यू आर द फॉर्म आफ नॉलेज
ओ लाइट फोर हाउ लांग हेव यू
बिफ्रेन्डड द स्काय?
एण्ड व्हेअर फोर दिस लव आफ इट?
हाउ डू यू कम्प्लीटली मर्ज इन इट?)

हिन्दी अनुवाद :
शायद तुम उसकी स्पष्टता हो।
शायद तुम ज्ञान का प्रकट रूप हो।
हे रोशनी, तुमने कब से
आकाश को अपना मित्र बनाये हुए हो?
किस तरह तुम उसमें पूर्णतः समा जाती हो?

[4] She who made you all is a magician
She is enchanter, the bewitcher
We praise her
Prosper O Light. – Subramania Bharti

(शी हू मेड यू ऑल इज़ ए मेजिशियन
शी इज़ इन्चान्टर, द बिविचर
वी प्रेज़ हर
प्रॉस्पर ओ लाइट)

हिन्दी अनुवाद :
वह जिसने तुम्हें बनाया पूरी तरह जादूगरनी है
वह मायावी मोहिनी शक्ति है।
हम उसकी स्तुति करते हैं
हे रोशनी, तुम खूब फलो फूलो।